Nazar Nazar Lyrics – Jagjit Singh

Nazar Nazar Lyrics

Nazar nazar se milakar sharab peete hai
Nazar nazar se milakar sharab peete hai
Hum unko paas bithakar sharab peete hai
Nazar nazar se milakar sharab peete hai

Isi liye to andhera hai maikade mein bahut
Isi liye to andhera hai maikade mein bahut
Yahan gharon ko jalaakar sharab peete hai
Nazar nazar se milakar sharab peete hai

Hume tumhare siwa kuch nazar nahi aata
Hume tumhare siwa kuch nazar nahi aata
Tumhe nazar mein sazakar sharab pite hai
Nazar nazar se milakar sharab peete hai

Unhi ke his se mein aati hai pyaas hi aksar
Unhi ke his se mein aati hai pyaas hi aksar
Jo doosron ko pilaakar sharab peete hai
Nazar nazar se milakar sharab peete hai.

Nazar Nazar Lyrics in Hindi

नज़र नज़र से मिलाकर शराब पीते हैं
नज़र नज़र से मिलाकर शराब पीते हैं
हम उनको पास बिठाकर शराब पीते हैं
हम उनको पास बिठाकर शराब पीते हैं

इसीलिए तो अँधेरा है मैकदे में बहुत
इसीलिए तो अँधेरा है मैकदे में बहुत
यहाँ घरों को जलाकर शराब पीते हैं
नज़र नज़र से मिलाकर शराब पीते हैं

हमें तुम्हारे सिवा कुछ नज़र नहीं आता
तुम्हें नज़र में सजाकर शराब पीते हैं
नज़र नज़र से मिलाकर शराब पीते हैं

उन्हीं के हिस्से में आती है प्यास ही अक्सर
उन्हीं के हिस्से में आती है प्यास ही अक्सर
जो दूसरों को पिलाकर शराब पीते हैं
नज़र नज़र से मिलाकर शराब पीते हैं

Anand Bora

I'm Music Enthusiast person, I like watching action movies and hanging out with my friends. Follow me on Google+ and Facebook